परिव्राजक वंश ,पाण्डय राज्य,उच्चकल्प राज्य | Madhya Pradesh Ka itihas


Madhya Pradesh Ka itihas

परिव्राजक वंश- पन्ना में स्थापित संपूर्ण बुंदेलखंड तक सत्ता। पहला राजा देवादय था (प्रभंजन) दामोदर हस्तिन) 
खोह और मझगंवा (सतना) ताम्रपत्र हस्तिन से संबंधित हैं। 

उच्चकल्प राज्य- सतना स्थित ऊँचाहार का प्रचीन नाम। ओघदेव, कुमारदेव, जय स्वामिन, व्याघ्र, जयनाथ, सर्वनाथ अन्य राजा हुए। 

पाण्डय राज्य- अमरकंटक के आसपास मैकल श्रणियों में स्थित। प्रथम राजा जयबल, अंतिम राजा भारतबल। 

शैलवंश - महाकौशल क्षेत्र में स्थित। 
प्रथम राजा श्रीवर्धन, अंतिम राजा जयवर्धन। 
राधौली ताम्रपात्र (बालाघाट) जयवर्धन ने उत्कीर्ण करवाया था। 



Also Read.....
वैदिककाल
होल्कर वंश


No comments:

Post a Comment

Powered by Blogger.