विश्व पृथ्वी दिवस | World Earth Day 22 April | Vishv Prithvi Divas

Vishv Prithvi Divas
  World Earth Day 22 April


विश्व पृथ्वी दिवस कब  मनाया जाता है

  • प्रतिवर्ष 22 अप्रैल 


विश्व पृथ्वी दिवस प्रथम बार कब  मनाया गया

  • 1969 में यूनेस्को द्वारा आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में 21 मार्च 1970 को, इस दिन को प्रथम बार मनाने का निर्णय लिया गयापरंतु बाद में इसमें कुछ परिवर्तन किए गए और 22 अप्रैल के दिन इसे मनाने का निर्णय लिया गया. 


विश्व पृथ्वी दिवस क्यों मनाया जाता है?

  • अर्थ डे” शब्द से परिचय कराने वाले व्यक्ति :  जुलियन कोनिग {1969}
  • World Earth Day : आज पूरी दुनिया में मनाया जा रहा है. अर्थ डे पृथ्वी पर रहने वाले सभी जीव-जंतुओंपेड़-पौधों को बचाने और दुनिया भर में पर्यावरण के प्रति जागरुकता फैलाने के उद्देश्य से अर्थ डे  मनाया जाता है
  • पृथ्वी दिवस यानि अर्थ डे के मौके पर पर्यावरण संरक्षण के बारे में लोगों को जागरूक किया जाता हैसाथ ही लोग पर्यावरण को बेहतर बनाने का संकल्प भी लेते हैं.
उद्देश्य 
  • यह दिन मुख्य रूप से पुरे विश्व के पर्यावरण सम्बन्धी मुद्दों और कार्यक्रमों पर निर्भर रहता हैइस दिन का मुख्य उद्देश्य शुध्द हवापानी और पर्यावरण के लिए लोगों को प्रेरित करना है

विश्व पृथ्वी दिवस 2020 World Earth Day  Important Fact

  • विश्व पृथ्वी दिवस पूरी दुनिया में एक साथ मनाया जाने वाला एक वार्षिक आयोजन है, जिसे 22 अप्रैल के दिन विश्व के 192 देश मनाते है.
  • इस वर्ष हम विश्व पृथ्वी दिवस की 50 वीं वर्षगांठ मना रहे हैं, इस वर्ष की विश्व पृथ्वी दिवस की थीम है-  ''जलवायु कार्यवाही'' (Climate Action) । इस दिन को सर्वप्रथम 1970 में मनाया गया था ।

पृथ्वी दिवस का इतिहास (Earth day history )

  • वर्ष 1969 में केलिफोर्निया में बहुत बड़े पैमाने पर तेल रिसाव हुआ, जिससे आहत होकर नेल्सन मंडेला नामक व्यक्ति राष्ट्रीय स्तर पर एक प्रेरक कार्यक्रम आयोजित करने के लिए प्रेरित हुये.
  • इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय स्तर पर लोगों को पर्यावरण संबंधित मुद्दों के लिए जागरूक करना था. 
  • 22 अप्रैल 1970 के दिन अमेरिका के कई कॉलेज और स्कूल के विद्यार्थियों के साथ लगभग 20 हजार अमेरिकी लोगों ने एक स्वस्थ पर्यावरण के उद्देश्य से एक राष्ट्रीय आंदोलन में भाग लिया और एक रैली का आयोजन किया. इसके बाद धीरे-धीरे पर्यावरण संरक्षण का यह मुद्दा अमेरिका से बढ़कर 141 देशों के 200 लोगों मिलियन लोगों तक पहुँच गया.
  • 22 अप्रैल 1990 में आयोजित पृथ्वी दिवस के दिन शामिल सभी देशों में रिसाइकलिंग प्रोसैस को अपनाने के लिए प्रोत्साहन दिया गया. इसके बाद वर्ष 2000 में हायेज द्वारा विश्व स्तर पर ग्लोबल वार्मिंग के मुद्दे पर ध्यान केंद्रित करवाया गया और इसी समय स्वच्छ ऊर्जा के मुद्दे को भी उठाया गया. और वर्ष 2000 में ही इंटरनेट के जरिये पूरी दुनिया में पृथ्वी दिवस के अंतर्गत कार्य करने वाले कार्यकर्ता जुड़े. इंटरनेट की इस पहल के द्वारा इस वर्ष पूरी दुनिया के लगभग 5000 समूह एक दूसरे से संपर्क में आए और इसमें लगभग 180 देशों के सैकड़ो मिलियन लोगों ने हिस्सा लिया.
  •  वर्ष 1970 से लेकर अब तक हर वर्ष पृथ्वी दिवस के कार्यक्रम का स्तर हर वर्ष बढ़ता चला गया और हर वर्ष कई देश और हजारों, लाखों लोग इसमें शामिल होते चले गए.
Vishv Prithvi Divas

                                               पेेड़ लगाओ पृथ्वी बचाओ 

पृथ्वी दिवस का गीत (Earth day song)

  • पृथ्वी दिवस को अंतराष्ट्रीय स्तर पर मनाते हुए उनके लिए गीत का निर्माण हुआ है इसको कई देशों में गाया जाता है. यह दो प्रकारों में गया जाता है एक समकालीन कलाकारों द्वारा गाये गए गीत और दूसरा आधुनिक कलाकरों द्वारा. यूनेस्को ने भारतीय कवि अभय कुमार की रचनात्मक और प्रेरित करने वाले गीत के लिए प्रशंसा की है. इसे कई भाषाओँ में जैसे अरेबिक, चाइनीज, अंग्रेजी, फ्रेंच, रशियन, स्पेनिश में गाया गया है. इसको और भी दो भाषाओँ में गाया गया है हिंदी और नेपाली.

विश्व पृथ्वी दिवस का विषय (थीम)


  वर्ष
  थीम
2019
"अपनी प्रजातियों की रक्षा करें"
"Save our species!"
2018
"प्लास्टिक प्रदूषण का अंत"
''End Plastic Pollution''
2017
"पर्यावरण और जलवायु साक्षरता"
“Environmental and Climate Literacy.”
2016
"धरती के लिए पेड़"
''Trees for the Earth!''
2015
जल अद्भुत विश्व” एवं ''स्वच्छ पृथ्वी- ग्रीन पृथ्वी''
“Water Wonderful World” and “Clean Earth – Green Earth”.
2014
हरे शहर
“Green Cities”
2013
जलवायु परिवर्तन का चेहरा
“The Face of Climate Change”.
2012
धरती को संगठित करना

“Mobilize the Earth”
2011
वायु को साफ करें
“Clear the Air”.
2010
कम करो
“Reduce”.
2009
कैसे आप आस-पास रहते हैं
“How Do You Get Around”.
2008
कृपया पेड़ लगायें
“Trees Please”
2007
धरती के प्रति दयालु बने-संसाधनों को बचाने से शुरुआत करें
“Be kind to the earth – starting from saving resources”.
Also Read....

No comments:

Post a Comment

Powered by Blogger.