गला कटने के बाद भी कॉकरोच कई दिनों तक जिंदा कैसे रह पाता है? How can a cockroach survive for many days even after its throat is cut?

 

गला कटने के बाद भी कॉकरोच के कई दिनों तक जिंदा रहने का वैज्ञानिक कारण

 



आपने अक्सर सुना होगा कि कॉकरोच गर्दन कटने के बाद भी कई दिनों तक जिंदा रह सकता है तब आपके मन में सवाल आता होगा कि कोई भी जीव गर्दन कटने के बाद कई दिनों तक जिंदा कैसे रह सकता है तो आइए जानते हैं उन वैज्ञानिक कारणों को जिनकी वजह से का कॉकरोच गर्दन कटने के बाद भी कई दिनों तक जीवित रह सकता है-

 

  • दरसअल कॉकरोच मुँह से साँस नहीं लेता है बल्कि अपने शरीर में उपस्थित रंध्रों की वजह से लेता है। तिलचट्टे का श्वसन तंत्र अनेक श्वासनलिकायों से बना होता है। कॉकरोच में 10 जोड़ी श्वासरंध्र पायी जाती है जिसमें से दो वक्ष में और 8 उदर में मौजूद होती है। इसलिए गला कट जाने के बावजूद भी काकरोच कई दिनों तक जिंदा रहता है 

 

कॉकरोच का श्वसन तंत्र

  • दूसरा सवाल यह उठता है कि यदि इंसान की गर्दन कट जाए तो खून बहने से उसकी मृत्यु हो जाएगी लेकिन कॉकरोच के साथ ऐसा क्यों नहीं होता दरअसल  कॉकरोच का रक्तचाप (Bloodpressure) इंसानों की तरह नहीं होता है। उनके पास मनुष्यों की तरह रक्त वाहिकाओं का एक बड़ा नेटवर्क नहीं है, इंसानों के पास छोटी केशिकाएं हैं जिनके माध्यम से रक्त प्रवाह करने के लिए हमे बहुत अधिक दबाव की आवश्यकता होती है,जबकि कॉकरोच के पास एक खुली संचार प्रणाली है, जिसमें बहुत कम दबाव होता है जिस कारण जब कॉकरोच कि गर्दन कट जाती है तो अधिकांशतः गर्दन सिर्फ थक्का जमने से बंद हो जाती है, जिसके कारण अनियंत्रित रूप से रक्त नहीं बहता और कॉकरोच जीवित रहता है।

 

  • अब हमारे मन में एक और सवाल उठता है कि जब कॉकरोच गला कट जाने के बावजूद भी सांस ले सकता है तो वह 9 दिन बाद मर क्यों जाता है? तो इसका जवाब है की कॉकरोच का गला कट जाने के बाद पानी नहीं पी पाने की वजह वह मर जाता है

 

कॉकरोच के बारे में अन्य महत्वपूर्ण तथ्य

 

  • एक कॉकरोच का जीवन काल लगभग 6 से 15 महीने का होता है और कॉकरोच 1 महीने में व्यस्क हो जाता है। 

  • कॉकरोच 40 मिनट तक सांस रोक सकते है ये कीट आधे घंटे से अधिक समय तक पानी में डूबे रहने से भी जीवित रह सकते हैं, ये आसानी से 40 मिनट तक सांस रोक कर रख सकते हैं जिसके कारण पानी में डूबने पर भी मरते नहीं है।

  •  कॉकरोच 1 घंटे में लगभग 3 मील की दूरी तय कर सकते हैं, एक या दो दिन पूर्व जन्मा कॉकरोच भी वयस्क कॉकरोच के बराबर रफ्तार से दौड़ सकता है।

  •  कॉकरोच की 4000 से अधिक अधिक प्रजाति पृथ्वी पर पाई जाती हैं।

  •  यह माना जाता है कि कॉकरोच की इस धरती पर उत्पत्ति कार्बोनिफेरस युग में 2.8 करोड़ वर्ष  से भी पूर्व हुई है।

  •  कॉकरोच बिना भोजन किए भी एक महीने तक जीवित रह सकते हैं, लेकिन पानी नहीं मिलने पर यह अधिकतम 9 दिनों तक जीवित रह सकते हैं।

  • कॉकरोच के मल में एलर्जी पैदा करने वाले तत्व होते हैं, जिनकी वजह से अस्थमा का अटैक हो सकता है. इसके अलावा सांस से जुड़ी बीमारियां होने का खतरा भी रहता है।

No comments:

Post a Comment

Powered by Blogger.