Header Ads

मात्रकों की परिभाषाएँ- एस.आई. मूल राशि


एस.आई. मूल राशियों के मात्रकों की परिभाषाएँ


मीटर (m)-

प्रकाश द्वारा निर्वात में  299,792, 458 समय-अंतराल में तय किए गए पथ की लंबाई एक मीटर है (सत्राहवाँ सी.जी.पी.एम., 1983)।

किलोग्राम(kg)-

किलोग्राम द्रव्यमान का मात्रक है। यह अंतरराष्ट्रीय मानक किलोग्राम द्रव्यमान के बराबर है (तृतीय सी.जी.पी.एम. 1901)

सेकंड(s)-

एक सेकंड Cs-133 परमाणु की निम्नतम अवस्थाओं के दो हाइपरपफाइन स्तरों के बीच के संक्रमण के संगत होने वाले विकिरण के 9192631770 आवर्तों की अवधि के बराबर है। (तेरहवाँ सी.जीपी.एम. 1967)

ऐम्पियर(A)-

वह स्थिर विध्युत धारा है, जो निर्वात में 1 मीटर की दूरी पर स्थित दो सीधे अनंत लंबाई वाले समानांतर एवं नगण्य वृत्तीय अनुप्रस्थ काट में प्रवाहित होने पर तारों के बीच प्रति मीटर लंबाई पर 2×10 की घात 7 न्यूटन का बल उत्पन्न  करती है (नौवाँ सी.जी.पी.एम. 1948)

केल्विन (K)-

जल के त्रिक बिंदु के ऊष्मागतिक ताप के 1/273.16वें भाग को केल्विनकहते हैं (तेरहवाँ सी.जी.पी.एम. 1967)

मोल (mol)-

मोल किसी निकाय में पदार्थ की वह मात्रा है, जिसमें मूल कणों की संख्या उतनी ही है, जितनी 0.012 kg कार्बन-12 में उपस्थित परमाणुओं की संख्या। जब मोल प्रयुक्त हो, तो मूल कणों (जो परमाणु अणु आयन, इलेक्ट्रॉन अथवा दूसरे कण हों) इंगित करना चाहिए (चौदहवाँ सी.जी.पी.एम, 1971)।

केंडेला (cd)-

केंडेला  किसी दिशा में 540 × 10 की घात 12 आवृत्ति वाले स्रोत की ज्योति-तीव्रता है, जो उस दिशा में (1/683) वाट, प्रति स्टिरेडियन की विकिरण-तीव्रता का एकवर्णीय प्रकाश उत्सर्जित करता है। (सोलहवाँ .जी.पी.एम.1979)।


1 comment:

Powered by Blogger.