Header Ads

जापान साम्राज्यवाद { Japan Imperialism], जर्मनी में नाजीवाद का उदय {Rise of Najivad in Germany},इटली में फासिस्टों का उदय {Rise of Fascism in Italy }

जापान साम्राज्यवाद { Japan Imperialism]

  • जापान के सामा्रज्यवाद का सबसे पहला शिकार चीन हुआ।
  • 1863 में एक अमेरिकी नाविक पेरी ने बल प्रयोग कर जापान का द्वारा अमेरिकी व्यापार के लिए खाोला।
  • जापान में आधुनिकीकरण की प्रक्रिया की शुरूआत मूतसुहीतों ने की।
  • 1872 ई. में जापान ने सैनिक सेवा अनिवार्य कर दी।
  • 1905 में जापान ने रूस को हराया।
  • जापान रूस युद्ध की समाप्ति 5 सितम्बर 1़905 को पाटsमाउथ संधि के द्वारा की गई।
  • जापान ने 1931 ई. में अपनी सामा्रज्यवादी आकांक्षाओं की पूर्ति के लिए मंजूरिया पर आक्रमण किया।
  • 20 मार्च 1933 ई. में जापान ने राष्ट्रसंघ की सदस्यता त्याग दी।
  • पीत आतंक से जापना को संबोधित किया जाता था।
  • द्धितीय विश्वयुद्ध मंे जापान ने धूरी राष्ट्र का साथ दिया था।
  • अमेरिका ने जापान पर पहला अणुबम 6 अगस्त 1945 को हिरोशिमा पर गिराया था।
  • द्धितीय विश्वयुद्ध में 10 सितम्बर 1945 को जापान ने आत्मसमर्पण किया।
  • हिरोशिमा और नागासाकी पर अणुबम गिराए जाने के कारण जापान ने द्वितीय  विश्वयुद्ध में आत्मसमर्पण किया था।

जर्मनी में नाजीवाद का उदय {Rise of Najivad in Germany}
  • जर्मनी में नाजी दल का उत्थान हिटलर के नेतृत्व में हुआ।
  • हिटलर का जन्म 20 अपै्रल 1889 ई. को वॉन में हुआ था।
  • जर्मन सम्राटा कैंसर विलियम द्वितीय ने 10 नवम्बर 1918 ई. को अपने पद से इस्तीफा दे दिया।
  • 1920 ई. में हिटलर ने नेशनल सोशलिस्ट पार्टी या नाजी दल की स्थापना की।
  • जर्मन वर्क्स पार्टी का संस्थापक हिटलर था।
  • 1933 ई. में हिटलर जर्मनी का प्रधानमंत्री बना। उस समय राष्ट्रपति हिण्डेनबर्ग था।
  • एक राष्ट्र एक नेता का नारा हिटलर ने दियां
  • हिटलर की आत्मकथा का नाम माई केम्फ (मेरा संघर्ष) है।
  • नाजी दल का प्रचार कार्य गोयबल्स संभालता था।
  • जर्मन सुरक्षा परिषद की स्थापना 4 अपै्रल 1933 ईसवी में हुई।
  • हिटलर ने 16 मार्च 1935 ई. में जर्मनी में पुनः शस्त्रीकरण की घोषण की।
  • हिटलर ने 1 सितम्बर 1939 को पोलैंड पर आक्रमण किया।
  • हिटलर का विस्तारवादी नीति का पहला शिकार आस्ट्रिया हुआ।
इटली में फासिस्टों का उदय {Rise of Fascism in Italy}
  • फासिज्म का उदय सर्वप्रथम इटली में हुआ। इसका जन्मदाता मुसोलिनी माना जाता है।
  • मुसोलिनी का जन्म 1883 ई. में रोमाग्ना में हुआ था।
  • मुसोलिनी के दल का नाम फासिस्टवाद था। इसकी स्थापना मिलान में की गई थी।
  • ड्यूस के नाम से मुसोलिनी का पुकारा जाता था।
  • फासीवादी राष्ट्रवाद का समर्थन करते थे।
  • फासीवादी दल के स्वयं सेवक काली कमीज पहनते थें
  • मुसोलिनी ने डियाज को सेना का अधिकारी नियुक्त किया।
  • मुसोलिनी द्वारा बनाये गए निगमों की संख्या 22 थी।
  • राष्ट्रीय निगम परिषद का अध्यक्ष मुसोलिनी था। जिसके सदस्यों की संख्या 500 थी।
  • ग्रैण्ड कौंसिल ऑफ फासिस्ट पार्टाी के सदस्यों की संख्या 25 थी।
  • मुसोलिनी ने अक्टूबर 1922  ई. में रोम पर और 1935 ई. अबीसीनिया पर आक्रमण किया।
  • जापान एवं जर्मनी के साथ मुसोलिनी ने रोम बर्लिन टोकियो धुरी का निर्माण 1936 में किया।
  • मुसोलिनी ने 10 जून 1939 ई. को द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान मित्र राष्ट्रों के विरूद्ध युद्ध की घोषण की।
  • इटली में फासीवाद का अंत 28 अपै्रल 1945 को माना जाता है।

No comments

Powered by Blogger.